Tuesday, June 19, 2012

इसलिए चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं कलाम


नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने सोमवार को निम्रलिखित बयान जारी कर स्पष्ट किया है कि आखिर वह राष्ट्रपति चुनाव क्यों नहीं लडऩा चाहते। कलाम ने कहा है, ‘‘राष्ट्रपति चुनाव को लेकर जारी घटनाक्रम के बारे में आपको पता है। यद्यपि मैंने एक और कार्यकाल के बारे में कभी नहीं सोचा और न चुनाव लडऩे में रुचि ही जाहिर की, लेकिन तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी और अन्य राजनीतिक दल मुझे अपना उम्मीदवार बनाना चाहते थे।’’ कलाम ने आगे कहा है, ‘‘तमाम नागरिकों ने भी इसी तरह की इच्छा जाहिर की है। यह मेरे प्रति उनके प्रेम और लगाव को तथा उनकी आकांक्षा को जाहिर करता है।

मैं वाकई में इस समर्थन से गदगद हूं। मैं इन सभी आकांक्षाओं का आदर करता हूं। उन्होंने मेरे ऊपर जो भरोसा किया है, उसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देना चाहता हूं।’’ कलाम ने आगे कहा है, ‘‘मैंने इस मामले पर और मौजूदा राजनीतिक हालात पर समग्रता से विचार किया और 2012 का चुनाव न लडऩे का निश्चय किया।’’


Saturday, June 16, 2012

सिर्फ 8 सेकेंड में भारत पर ऐटमी हमला कर सकता है पाक?


लंदन।। एक दावे के मुताबिक, पाकिस्तान महज 8 सेकेंड में भारत पर ऐटमी हमला कर सकता है। पाकिस्तानी सेना के एक जनरल ने सन् 2001 में 9/11 के हमले के एक महीने के भीतर ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर की पाकिस्तान यात्रा के दौरान यह दावा किया था। ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर के एक प्रमुख सहयोगी एलिस्टेयर कैंपबेल की डायरी छपने के बाद यह बात दुनिया के सामने आई है।


ब्लेयर की यात्रा के दौरान पाक जनरल ने ब्लेयर के पूर्व कम्युनिकेशन डायरेक्टर एलिस्टेयर कैंपबेल से कहा था कि वह भारत को पाकिस्तान की बढ़ती परमाणु ताकत के बारे में बताएं। पाकिस्तान की धमकी को लेकर ब्रिटेन इतना चिंतित हो गया था कि ब्लेयर के वरिष्ठ विदेश नीति सलाहकार सर डेविड मैनिंग ने एक पत्र में चेतावनी दी थी कि पाकिस्तान परमाणु बम का इस्तेमाल करने के लिए तैयार बैठा है।


इस चेतावनी के बारे में कैंपबेल ने अपनी डायरी द बर्डन ऑफ पावर में जिक्र किया है। इसे पिछले शनिवार और सोमवार को ब्रिटिश अखबार गार्जियन में प्रकाशित किया गया है। डायरी की शुरुआत 2001 में 11 सितंबर को व‌र्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले से हुई है। इसका अंत अगस्त, 2003 में कैंपबेल के इस्तीफा देने के निर्णय से हुआ है।


पाकिस्तानी जनरल द्वारा परमाणु हमले की धमकी उस समय दी गई थी जब 9/11 हमले के बाद ब्लेयर ने भारतीय उपमहाद्वीप की यात्रा की थी। कैंपबेल के सामने 8 सेकेंड में परमाणु हमले की धमकी 5 अक्टूबर, 2001 को इस्लामाबाद में डिनर के मौके पर दी गई थी। डिनर की मेजबानी पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने की थी। कैंपबेल ने लिखा है, डिनर में मैं दो सीनियर जनरल के बीच बैठा था। दोनों इस बात के प्रति आश्वस्त लग रहे थे कि एक दिन परमाणु युद्ध होगा। उन्होंने लिखा है कि जब भोज से जाने का समय आया तो एक जनरल ने मुझसे भारत को याद दिलाने को कहा कि हम उस पर 8 सेकेंड में मिसाइलों से परमाणु हमला कर सकते हैं।



Sunday, June 10, 2012

भूपति और बोपन्ना पर लग सकता है 2 साल तक का बैन ?


नई दिल्ली। लंदन ओलंपिक में लिएंडर पेस के साथ न खेलने की घोषणा करना महेश भूपति और रोहन बोपन्ना को महंगा पड़ सकता है। भारतीय टेनिस संघ महेश भूपति और रोहन बोपन्ना पर 2 साल का बैन लग सकता है।
भारतीय टेनिस संघ ने ओलंपिक के लिए पेस और भूपति की जोड़ी को चुना था। लेकिन महेश भूपति ने पेस के साथ जोड़ी बनाने से साफ इनकार कर दिया था। महेश भूपति ने कहा कि वह पीठ पर छुरा घोंपने वाले लिएंडर पेस के साथ जोड़ी नहीं बना सकते।
वहीं शुक्रवार को अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) के अध्यक्ष खन्ना ने कहा था कि भले ही पेस और भूपति के बीच मौजूदा समय में रिश्ते सामान्य नहीं हैं लेकिन इसके बावजूद एआईटीए मानता है कि वे भारत के लिए पदक जीतने लायक जोड़ी का निर्माण करते हैं।
एआईटीए की दलील है कि खिलाड़ियों के बीच रिश्तों में खटास पेशेवर खेल जगत की सच्चाई है लेकिन जब देश की बात आती है तो संघ वही फैसला करता है, जो सर्वथा उचित होता है।
गौरतलब है कि भूपति ने हाल ही में कहा था कि वह लंदन में रोहन के साथ जोड़ी बनाना चाहते हैं। भूपति की दलील थी कि वह पेस के साथ जोड़ी इसलिए नहीं बनाना चाहते क्योंकि 2002 में अलग होने के बाद उनका पेस के साथ पहले जैसा जुड़ाव नहीं हो सका।
 

Follow Us:

Add Me: